Baat par Shayari in Hindi | बात पर शायरी इन हिंदी | Hindi Shayari

Baat par Shayari in Hindi 

बात पर शायरी इन हिंदी में आपका स्वागत है , किसी से #बात करने का भी सबका अपना ही अंदाज़ होता होता है , कोई बात कह कर भी कुछ भी नहीं कह पता ,और कोई चुप रह कर सब बात कह देता है , बात पर शायरी बहुत तरह की होती है , कभी - कभी कोई रूठ जाता है तो बात नहीं करता जिसे बात न करने की शायरी कहते है , लेकिन आज हम सिर्फ ऐसे ही प्यार, दोस्ती, रूठना , मनाना जैसे ऐसी ही कुछ बात पर शायरी की बात करेंगे , तो चलिए बात करते है बात शायरी पर जिसे पढ़ कर आपको अच्छा लगेगा , अगर यह पोस्ट पसंद आये तो कमेंट जरूर करना, बात शायरी के इलावा इस वेबसाइट पर आपको और भी हिंदी शायरी की पोस्ट जैसे बेस्ट हिंदी कोट्स , बेस्ट हिंदी शायरी , साद हिंदी शायरी ,रुला देने वाली शायरी इन हिंदी , दर्द भरी शायरी इन हिंदी , मोटिवेशनल कोट्स और भी बहुत शायरी आपको पसंद आएगी , Thanks 

Kal Hi Ki To Baat Hai 

फ़िक्र-ए-रोज़गार ने 
फासले बड़ा दिए वरना, 
सब यार एक साथ थे, 
अभी कल ही की तो बात है 

Fikr-E-Rozagaar ne 
Faasle bada die Varna, 
Sab yaar ek saath the, 
Abhee kal hee kee to #Baat hai 
Baat Par Shayari in Hindi , Baat Shayari , QuotesShayari on baat , Baat nahi karte shayari , Baat na kerne ki shayari , baat kyu nahi karte shayari in hindi , baat par shayari images , Hindi Shayari , Hindi quotes, बात पर शायरी इन हिंदी


Baat Karna ki Tameez Shayari 

अक्सर खामोश रहते हैं वो लोग 
जिन्हें बात करने की तमीज होती है 

Aksar khaamosh rahate hain vo log 
Jinhen Baat karane kee tameej hotee hai 

Mujhse Baat Mat Karo Shayari 

जी करता है तेरे मुंह से 
आवाज सुनने को ठीक है 
मुझसे बात मत करो लेकिन 
कोई शिकायत ही कर दो 

Jee karata hai tere muh se 
aavaaj sunane ko, 
Theek hai mujhase Baat mat karo 
Lekin koee shikaayat hee kar do 

Andaaz Se Baat Karna Shayari 

नफ़रत हो जायेगी तुझे अपने ही किरदार पे, 
अगर में तेरे हि अंदाज मे तुझसे बात करुं 

Nafarat ho jaayegee tujhe 
apane hee kiradaar pe, 
Agar mein tere hi andaaj me 
tujhase Baat karun 

Khamoshi Ko Samjane Ki Baat Shayari 

बातें तो हर कोई समझ लेता है, 
मगर हम वो चाहते है जो हमारी ख़ामोशी को समझे. 

Baaten to har koee samajh leta hai, 
Magar ham vo chaahate hai jo hamaaree khaamoshee ko samajhe 

Baat Nahi Karte Shayari 

आप हमसे तभी बात करते हो 
जब आपकी मर्जी होती है और 
हमारी नादानी देखो कि हम 
आपकी मर्जी का इंतजार करते हैं 

Aap hamase tabhee baat karate ho, 
Jab aapakee marjee hotee hai, 
Aur hamaaree naadaanee dekho ki, 
Ham aapakee marjee ka 
intajaar karate hain

You Might Also Like

0 comments